Sunday, December 14, 2008

नेता, अपराध और भ्रस्टाचार

भारत में दुर्भाग्य से इन तीनो (नेता, अपराध एवं भ्रस्टाचार) का अटूट सम्बन्ध है स्वतंत्रता के पश्चात से ही नेताओं के अपराध एवं भ्रस्टाचार पर अंकुश लगाने के स्थान पर इसे बढ़ाने का ही उपक्रम किया गया और अँधा बांटे रेबडी फिर फिर अपने को देय की कहावत को चरितार्थ करते हुए उन्हें अनावश्यक सुविधाएँ और विशेस अधिकार प्रदान कर दिए गए जिसके कारण भ्रष्ट एवं अपराधी प्रवृत्ती के जन प्रतिनिधियों की संख्या बढ़ने लगी और आज संभवता कोई भी जन प्रतिनिधि सामान्य सदाचार और सत्य निष्ठां के माप दण्डों पर खरा नही उतरता है इसी बात का जन आक्रोश अभी अभी सम्पूर्ण राष्ट्र में दिखाई भी दिया जन प्रतिनिधियों को हर स्थान पर विशेष कोटा देने की क्या आवश्यकता थी, आज अपराध और भ्रस्टाचार की जड़ संसद निधि है जिसमें हजारों करोड़ रुपये व्यर्थ में गैर योजना खर्च पर व्यय होता है या यों कहें कमीशन के रूप में जन प्रतिनिधियों कों बांटा जाता है उनके लिए न्याय व्यवस्था अलग सी प्रतीत होती है पहले एक जन प्रितिनिधि को हत्या का अपराधी पाया जाता है फिर कुछ समय पश्चात् बेदाग़ छूट जाते हैं और मंत्री बन जाते हैं एक अपराधी को कोलकोता में बलात्कार एवं हत्या के आरोप में म्रत्यु दंड दिया जाता है और महा महिम उसकी दया की भीख पर विचार करने से भी मना कर देते हैं वहीं एक आतंकी के परिवार को चाय पिलाई जाती है क्यों की उसकी पैरवी नेता लोग कर रहे थे उसी प्रकार के हत्या एवं बलात्कार के अपराध में एक जन प्रतिनिधि विचारा धीन हैं क्या उनक अपराध सिद्ध हो पायेगा निश्चित नहीयहाँ की पुलिश ने तो उनके निर्देश पर आई आई टी कानपुर के एक विद्यार्थी को ही अपराधी घोषित कर दिया था और उसका विवाह भी मधुमिता से दिखा दिया था उस पंडित को भी सामने कर दिया था जिसने विवाह करवाया था परन्तु जन विरोध के चलते वह बच्चा म्रतुदंड से बच गया था एक डकैत फूलन देवी की कहानी तो सब को ज्ञात है जिसे जन प्रतिनिधि की अनुसंशा पर अपराध मुक्त कर दिया गया आज जन सामान्य में यह धारणा बन गयी है की किसी भी छोटे या बड़े अपराध के पीछे किसी न किसी नेता का परोक्छ या अप्रोक्छ हाथ होता है जब तक जन प्रितिनिधियों को यह निधि मिलाती रहेगी और उन्हें विसेशाधिकार प्राप्त रहेंगे इस राष्ट्र का पतन होता ही जाएगा, सामान्य जन भी अपराधी एवं भ्रस्त होता जाएगा क्यों की वह अपने प्रतिनिधियों का ही अनुकरण करेगा

8 comments:

ई-गुरु राजीव said...

हिन्दी ब्लॉगजगत के स्नेही परिवार में इस नये ब्लॉग का और आपका मैं ई-गुरु राजीव हार्दिक स्वागत करता हूँ.

मेरी इच्छा है कि आपका यह ब्लॉग सफलता की नई-नई ऊँचाइयों को छुए. यह ब्लॉग प्रेरणादायी और लोकप्रिय बने.

यदि कोई सहायता चाहिए तो खुलकर पूछें यहाँ सभी आपकी सहायता के लिए तैयार हैं.

शुभकामनाएं !


ब्लॉग्स पण्डित - ( आओ सीखें ब्लॉग बनाना, सजाना और ब्लॉग से कमाना )

ई-गुरु राजीव said...

आपका लेख पढ़कर हम और अन्य ब्लॉगर्स बार-बार तारीफ़ करना चाहेंगे पर ये वर्ड वेरिफिकेशन (Word Verification) बीच में दीवार बन जाता है.
आप यदि इसे कृपा करके हटा दें, तो हमारे लिए आपकी तारीफ़ करना आसान हो जायेगा.
इसके लिए आप अपने ब्लॉग के डैशबोर्ड (dashboard) में जाएँ, फ़िर settings, फ़िर comments, फ़िर { Show word verification for comments? } नीचे से तीसरा प्रश्न है ,
उसमें 'yes' पर tick है, उसे आप 'no' कर दें और नीचे का लाल बटन 'save settings' क्लिक कर दें. बस काम हो गया.
आप भी न, एकदम्मे स्मार्ट हो.
और भी खेल-तमाशे सीखें सिर्फ़ 'ब्लॉग्स पण्डित' पर.
यदि फ़िर भी कोई समस्या हो तो यह लेख देखें -


वर्ड वेरिफिकेशन क्या है और कैसे हटायें ?

Suresh Chiplunkar said...

हिन्दी ब्लॉग जगत में आपका हार्दिक स्वागत है, मेरी शुभकामनायें… एक अर्ज है कि कृपया वर्ड वेरिफ़िकेशन हटा दें ताकि टिप्पणी करने में आसानी हो… धन्यवाद्…

रचना गौड़ ’भारती’ said...

भावों की अभिव्यक्ति मन को सुकुन पहुंचाती है।
लिखते रहि‌ए लिखने वालों की मंज़िल यही है ।
कविता,गज़ल और शेर के लि‌ए मेरे ब्लोग पर स्वागत है ।
मेरे द्वारा संपादित पत्रिका देखें
www.zindagilive08.blogspot.com
आर्ट के लि‌ए देखें
www.chitrasansar.blogspot.com

संगीता पुरी said...

बहुत सुंदर...आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है.....आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे .....हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

Hindustani said...

सच कहा है
बहुत ... बहुत .. बहुत अच्छा लिखा है
हिन्दी चिठ्ठा विश्व में स्वागत है
टेम्पलेट अच्छा चुना है. थोडा टूल्स लगाकर सजा ले .
कृपया वर्ड वेरिफ़िकेशन हटा दें .(हटाने के लिये देखे http://www.manojsoni.co.nr )
कृपया मेरा भी ब्लाग देखे और टिप्पणी दे
http://www.manojsoni.co.nr

Jyotsna Pandey said...

हिन्दी ब्लाग जगत में आपका हार्दिक स्वागत है ,टिप्पणी चिटठा पढ़ने के बाद करूंगी .मेरी शुभ कामनाएं आपके साथ हैं .................

मेरे ब्लाग पर आपका स्वागत है

प्रकाश बादल said...

swaagat khoob likhen